अलग अलग तरह की चाय बनाने की विधि

गुढ़ की चाशनी को तैयार करना

सामग्री :- बिना मसाले का गुड़ ५०० ग्राम , पानी आधा कप |

बनाने की विधि :- आधा किलो के गुढ़ के टुकड़े कर के आधा कप पानी में उबाल लें | जब उबाल बंद होने लगे तो आंच से उतार लें | इस को ठंडा होने पर छान कर कांच की बोतल में भर कर रख लें | यह चाशनी 3-4 दिन तक रख सकते है |

तुलसी की चाय

(दो व्यक्तियों के लिए)

सामग्री : तुलसी के पत्ते 10-15; पानी 2 कप ; किसमिश 10-15 दाने |

बनाने की विधि :- पानी को पूरी तरह से उबाल ले | फिर आंच को बंद कर दे | तुलसी के पत्ते और किशमिश को उबालें पानी में डाल कर ढक्कन बंद कर दें | 10 मिनट बाद तुलसी के पत्ते  और किशमिश को मसल कर छान ले | वैसे ही पी लें | स्वादिष्ट होगी | यह सर्दी, जुखाम,बुखार,खांसी में लाभदायक है |

पुदीना की चाय

(दो व्यक्तियों के लिए)

सामग्री : पुदीना एक मुट्ठी भर; तुलसी के पत्ते 8-10; अदरक एक छोटा टुकड़ा, गुड़ की चाशनी थोड़ी सी, पानी दो कप |

बनाने की विधि :- अदरक को कदूकस कर लें तथा तुलसी और

पुदीने के हाथ से बारीक़ काट लें| पानी उबाल कर उसमे अदरक , पुदीना और तुलसी के पत्ते डाल कर ढक दें और आंच बंद कर दें | 5-7 मिनट बाद  उसे छान लें | गुड़ की चाशनी डालकर सेवन करें |

जीरे की चाय

(दो व्यक्तियों के लिए)

सामग्री : जीरा एक चम्मच; गुड़ की चाशनी थोड़ी सी, पानी दो कप |

बनाने की विधि : पानी को उबाल लें | फिर उसमे एक चम्मच जीरा डाल कार ढक दे  और एक उबाल आते ही आंच बंद कर दें | 5-7 मिनट बाद उसको छान कर सेवन करें | ऐसा ही सेवन  करने में ज्यादा लाभ होगा | गुड़ की चाशनी मिलकर भी सेवन कर सकते है

संतरे के छिलके की चाय

सामग्री : ताजा या छाया में सुखाया हुआ 4-5 मिनट दिन पुराना एक संतरें का छिलका | गुड़ की चाशनी थोड़ी सी | पानी दो कप |

बनाने की विधि : संतरें के छिलके के छोटा छोटा टुकड़े कर लें | फिर पानी को उबालते समय उसमे सन्तरे के छिलके डाल कर ढक दें और एक उबाल आते ही आंच बंद कर दें | उसको अधिक उबालने से चाय कड़वी हो सकती है | बाद में चाशनी मिला कर सेवन करें | इसे ठंडा करके भी पी सकते है |  जितनी ठंडी होगी उतनी ज्यादा अच्छी लगेगी |

मसाला चाय

(दो व्यक्तियों के लिए)

सामग्री :- दाल चीनी छोटे छोटे टुकड़े; छोटी इलायची 2 दाने, जीरा | चम्मच लौंग 6 नग |

मसाला बनाने की विधि :- इन सब मसलों को अच्छी तरह से सुखाकर  भून लें | ज्यादा न भुने, काला नहीं पड़ना चाइये | बुरा रंग का भी नहीं होना चाइये | फिर मिक्सी में पीस ले | चाय का मसाला तैयार है | डिब्बी में बंद कर के रख लें | आवश्यकता अनुसार प्रयोग करें |

बनाने की विधि :- पानी को उबाल ले | उबलने के बाद पानी में एक चम्मच तैयार  किया चाय मसाला डाल कर उसे ढक दे और आंच बंद कर दें | ५-७ मिनट बाद उसे बारीक़ छलनी  से छान लें | इसको ऐसी ही पीने से लाभ होगा नहीं तो कम मात्रा में गुड़ की चाशनी डाल कर सेवन करें |

×
×

Cart